हमारी शख्सियत का अंदाज़ा तुम
क्या लगाओगे गालिब..
हम जंगल मे नही है तो इसका मतलब
ये नही की हम शिकार करना भुल गये
सिधा ठोक देगे
हमारी शख्सियत का अंदाज़ा तुम क्या लगाओगे गालिब.. हम जंगल मे नही है तो इसका मतलब ये नही की हम शिकार करना भुल गये सिधा ठोक देगे
1
0 Comments 0 Shares