पलकों को कभी हमने भिगोए ही नहीं,
वो सोचते हैं की हम कभी रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं कि ख्वाबो में किसे देखते हो?
और हम हैं की उनकी यादो में सोए ही नहीं!
पलकों को कभी हमने भिगोए ही नहीं, वो सोचते हैं की हम कभी रोये ही नहीं, वो पूछते हैं कि ख्वाबो में किसे देखते हो? और हम हैं की उनकी यादो में सोए ही नहीं!
1
0 Comments 0 Shares